Friday, December 9, 2022
Homeकोविड टीकाकरण हेतु उच्च डिनोमिनेशन वाली सिरिंजों का होगा प्राथमिकता के आधार...

कोविड टीकाकरण हेतु उच्च डिनोमिनेशन वाली सिरिंजों का होगा प्राथमिकता के आधार पर उपयोग

सिरिंज के स्टॉक एवं उपयोग की होगी दैनिक समीक्षा:
इविन पोर्टल पर सिरिंज के स्टॉक एवं उपयोग का होगा नियमित अद्यतन:
अपर निदेशक, प्रतिरक्षण सह राज्य प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने पत्र जारी कर दिए निर्देश:

गया, 2 फ़रवरी।
स्वास्थ्य विभाग द्वारा ज्यादा से ज्यादा योग्य लाभार्थियों को कोविड का टीका देने की मुहीम जारी है. दोनों डोज के उपरांत अब यग्य लाभार्थियों एवं अग्रिम पंक्ति तथा स्वास्थ्यकर्मियों को प्रीकॉशनरी डोज़ का टीका लगाया जा रहा है. जिला में सभी योग्य लाभार्थियों को जल्दी से जल्दी टीकाकृत करने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है. टीकाकरण के लिए इस्तेमाल की जा रही सिरिंजों के उपयोग एवं स्टॉक के अनुसरण हेतु अपर निदेशक, प्रतिरक्षण सह राज्य प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. नरेंद्र कुमार सिन्हा द्वारा नए दिशानिर्देश जारी किये गए हैं.

कोविड टीकाकरण हेतु उच्च डिनोमिनेशन वाली सिरिंजों का होगा प्राथमिकता के आधार पर उपयोग:
जारी पत्र में बताया गया है कि प्राथमिकता के आधार पर सिरिंजों के उपलब्ध स्टॉक में से क्रमानुसार 3एमएल/2एमएल/1एमएल एवं 0.5एमएल की सिरिंजों का उपयोग करना यानि सबसे पहले 3 एमएल वाले सिरिंज, उसके बाद 2 एमएल वाले सिरिंज, उसके बाद 1 एमएल वाले सिरिंज एवं अंतिम में 0.5 एमएल वाले सिरिंज का इस्तेमाल किया जाना है. पत्र में निर्देशित है कि नियमित टीकाकरण के लिए 0.5 एमएल वाले एडी सिरिंज का इस्तेमाल किया जाना है.

सिरिंज के स्टॉक एवं उपयोग की होगी दैनिक समीक्षा:
जारी पत्र में बताया गया है कि जिले में सिरिंज के स्टॉक एवं उपयोग की नियमित समीक्षा की जानी है तथा इविन पोर्टल पर इनके दैनिक उपयोग का नियमित रूप से अद्यतन किया जाना है. सिरिंज के इस्तेमाल में फर्स्ट एक्सपायरी फर्स्ट आउट के सिद्धांत का पालन करना है ताकि कोई भी सिरिंज बेकार नहीं जाये. पत्र में निर्देशित है कि सभी जिलों में सभी स्तर पर इसका अनुपालन सुनिश्चित किया जाना है तथा निर्देशित सभी बातों को क्रियांवित करना है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments