Saturday, May 28, 2022
HomeUncategorizedस्वास्थ्य विभाग की सक्रियता से जिले में खत्म हो रहा कोविड-19 संक्रमण

स्वास्थ्य विभाग की सक्रियता से जिले में खत्म हो रहा कोविड-19 संक्रमण

वर्तमान में जिले में हैं 90 एक्टिव मामले:
कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एवं नियमित जांच के कारण कंट्रोल में रहा कोरोना:
एक्टिव केस रिकवरी में टीकाकरण की महत्वपूर्ण भूमिका:

पूर्णिया, 11 फरवरी।
जिले में कोविड-19 संक्रमण खत्म होने के कगार पर है। स्वास्थ्य विभाग की सक्रियता के कारण संक्रमण की तीसरी लहर लोगों को परेशान करने में असमर्थ रही। तीसरी लहर में कोरोना ज्यादा लोगों को अपना शिकार नहीं बना सका जिसके पीछे स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियमित जांच एवं तेजी से सभी लोगों को टीका लगाना प्रभावी रहा। 01 दिसंबर 2021 से 11 फरवरी 2022 तक जिले में 3221 कोविड-19 पॉजिटिव केस देखे गए जिसमें 3127 लोग रिकवर हो गए जबकि 04 लोगों की मृत्यु दर्ज हुई। 11 फरवरी तक जिले में केवल 90 एक्टिव केस बचे हुए हैं जो बहुत जल्द ठीक होने के कगार पर हैं।

कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एवं नियमित जांच के कारण कंट्रोल में रहा कोरोना:
जिला स्वास्थ्य विभाग के एपिडेमियोलॉजिस्ट नीरज कुमार निराला ने बताया कि संक्रमण की तीसरी लहर से लोगों को सुरक्षित रखने में कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एवं नियमित जांच बहुत उपयोगी रहा। तीसरी लहर की शुरुआत से ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले के जगह-जगह में जांच केंद्र शुरू किया गया जहां लोगों की कोविड-19 एंटीजन टेस्टिंग की गयी। उसमें पॉजिटिव आने वाले लोगों की आरटीपीसीआर जांच करवायी गयी और उन्हें मेडिसीन देकर होम आइसोलेट किया जाता रहा। इसके साथ ही संक्रमित व्यक्ति के पिछले कुछ दिनों में संपर्क में आये सभी लोगों की भी कोरोना जांच करवायी गयी। इसमें भी अगर कोई पॉजिटिव निकले तो उन्हें भी मेडिसीन के साथ अन्य लोगों से अलग रखा गया। ऐसा करने से जिले में कोरोना संक्रमण की बढ़ोतरी को रोका गया जिससे ज्यादा लोग सुरक्षित रह सके।

एक्टिव केस रिकवरी में टीकाकरण की महत्वपूर्ण भूमिका:
सिविल सर्जन डॉ. एस के वर्मा ने बताया कि संक्रमण की तीसरी लहर में लोगों के जल्द स्वस्थ्य होने में कोविड-19 टीकाकरण की महत्वपूर्ण भूमिका रही। टीका लगाने के बाद लोगों के शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास हुआ जो उन्हें दुबारा संक्रमित होने पर जल्द स्वस्थ्य होने में मददगार रहा। तीसरी लहर के दौरान एक्टिव सभी केस को होम आइसोलेट करके स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें घर पर ही मेडिकल किट उपलब्ध कराई गई । जिससे वह जल्दी रिकवर हो सके। इस दौरान कोविड कंट्रोल रूम द्वारा नियमित एक्टिव केसेस की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देखरेख की जाती थी। आवश्यकता होने पर लोगों के लिए मेडिकल टीम भी बनायी गयी थी। जिसके द्वारा उन्हें घर में जांच कर आवश्यक दवाई उपलब्ध कराई जाती रही। वर्तमान में जिले में सिर्फ 90 कोविड केस एक्टिव हैं जो बहुत जल्द स्वस्थ्य हो जाएंगे। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियमित रूप से एक्टिव लोगों की ट्रेसिंग की जा रही है। सिविल सर्जन डॉ. वर्मा ने कहा कि कोविड-19 टीका लोगों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए बहुत उपयोगी है। इसलिए सभी लोगों को समय पर अपनी दोनों कोविड 19 डोज जरूर लगानी चाहिए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments