Sunday, May 22, 2022
HomeUncategorizedपंचायत के पौराणिक धरोहरों के मैपिंग का काम करेगी :सी.एस.सी

पंचायत के पौराणिक धरोहरों के मैपिंग का काम करेगी :सी.एस.सी

*

छपरा के नेहरूचौक स्थित आधार सेंटर पर आयोजित एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया
सरकार ऐसी मानती हैं कि भारत गाँवो का देश है,ऐसी बहुत सारी धरोहरें हैं जिसके बारे में हम सभी नहीं जानते,सरकार ऐसी चीज की जानकारी ग्राम पंचायतों के कॉमन सर्विस सेंटर (VLE) द्वारा इन का मैपिंग कराने की जिम्मेवारी सौंपी गई हैं।इसके लिए VLE को एप्पलीकेशन के साथ आइडी पासवर्ड मुहैया कराया गया है।जिस माध्यम से पंचायत vle लोकेशन के साथ संबंधित जानकारी ऍप्लिकेशन पर अपलोड करेंगे।
भारत सरकार के सांस्कृतिक मंत्रालय और सीएससी के मध्य गांवों में धरोहर की तलाश करने के लिए अनुबंध किया गया है। सभी गांवों की सांस्कृतिक सूचना विशेष मोबाइल एप के माध्यम से संकलित करने का काम कॉमन सर्विस सेंटर संचालकों के माध्यम से होगा
जिला समन्वयक आनन्द ओझा ने कहा कि सारण जिले के 1807 गाँवो का सर्वे के दौरान सीएससी के उद्यमियों को गांव के खास सांस्कृतिक पहचान को मोबाइल में कैद करना है। गांव के प्रसिद्घ स्थान, किवदंती, व्यक्ति विशेष, पकवान, विशेष आभूषण व कपड़े आदि की जानकारी साझा की जाएगी।इसके लिए जिले के सभी ग्राम पंचायतों में काम करने वाले कॉमन सर्विस सेंटर के उद्यमियों को अपने-अपने गांव में सांस्कृतिक धरोहर की तलाश करनी है।इस मौके पर मनीष पाण्डेय मिंटू,संजीव सिंह, बिकेश बिहारी, मनीष राज,अंगद सिंह,पंकज सिंह, मनोज प्रसाद, बिकाश कुमार,सारण सोसायटी अध्य्क्ष तथा जिले के सैकड़ों VLE मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments