Tuesday, December 6, 2022
HomeUncategorizedजुलूस-ए-मोहम्मदी में झूम कर निकले नबी के दीवाने

जुलूस-ए-मोहम्मदी में झूम कर निकले नबी के दीवाने

आपसी सद्भाव के साथ देश प्रेम का अद्भुत जज्बा देखने को मिला

सरकार की आमद मरहबा, आका की आमद मरहबा से गूंज उठी फिजा

छपरा.
पैगम्बरे इस्लाम हजरत मुहम्मद मुस्तफा सल्लल्लाहुअलैहवसल्लम के यौम-ए-पैदाइश के मौके पर रविवार को जिला भर में जुलूस-ए-मोहम्मदी धूमधाम से निकाला गया. इस दौरान मुस्लिम समुदाय में एक अलग ही रौनक दिखाई दे रही थी. मानो जुलूस में शामिल होने के लिए पूरा जनसैलाब उमड़ पड़ा हो. सिर पर हरा साफा बांध लकदक कपड़ों में सजे लोग एक हाथ में मजहबी परचम तो दूसरे हाथ में तिरंगा थाम इसे लहराते हुए जुलूस में शामिल हुए. जुलूस में शामिल ऊंट, घोड़े और तरह-तरह की झांकियां आकर्षण का केंद्र रहीं तो हर तरफ नबी की आमद मरहबा, सरकार की आमद मरहबा, हुजूर की आमद मरहबा, आका की आमद मरहबा की सदाएं बुलंद होती रहीं. ओलेमा जहां दरूद व सलाम पेश कर रहे थे वहीं शायर व नातख्वां तरन्नुम में मनकबत, हम्द और नात पेश कर माहौल को नूरानी बना रहे थे. जुलूस में युवा और बुजुर्गों के अलावा बच्चों का उत्साह भी देखते ही बन रहा था. बग्घी, दुपहिया और चार पहिया वाहनों पर सवार होकर लोग जुलूस में शामिल हुए. रास्ते भर जुलूस में शामिल लोगों के लिए मुस्लिम व हिन्दू भाइयों की ओर से चाय व खाने पीने की चीजों का वितरण भी होता रहा. नबी के दिवानों पर कई जगह लोगों ने फूल भी बरसाए. ईद मिलादुन्नबी की पूर्व संध्या पर शहर के खनुआ से जुलूस-ए-मोहम्मदी निकाला गया. जिसकी कयादत जिलानी मुबीन, अब्दुल कैयूम अंसारी, डॉ मंसूर अंसारी आदि कर रहे थे. दारूल उलूम नईमिया, जामा मस्जिद में रात भर जलसा चला जिसमें देश भर के मशहूर ओलेमा ने नबी के सीरत और तालीम पर रोशनी डाली. शायरों ने भी समां बांधा. सुबह की नमाज के बाद जुलूस निकला जो साहेबगंज, हथुआ मार्केट, थाना चौक, मजहरुल हक पथ, डाकबंगला रोड, मालखाना चौक, सदर अस्पताल, दरोगा राय चौक होते हुए जुमनी मस्जिद तक गया. वहीं दारूल उलूम रजविया के तत्वावधान में मौलाना रज्जबुल कादरी की कयादत में निकला जुलूस बड़ा तेलपा, चांदनी चौक, बिचला तेलपा, कोरार, न्यू कालोनी, छोटा तेलपा, कटहरी बाग, करीमचक, सरकारी बाजार, खनुआ होते हुए पुनः वापस गया. ब्रह्मपुर से हाजी आफताब आलम की कयादत में जुलूस ने पूर्वी छोर से पश्चिम तक पूरे शहर का दौरा किया. इसके अलावा मिर्चईया टोला, गडही तीर, दहियावां आदि शहरी इलाकों समेत ग्रामीण क्षेत्र के बनियापुर, कोपा, मशरक, दिघवारा, एकमा, दाऊदपुर, लहलादपुर, तरैया, नगरा, मकेर, अमनौर, सोनपुर, दरियापुर, मिर्जापुर, तुजारपुर आदि जगहों पर भी मजहबी जोश, आपसी सद्भाव व देश प्रेम के अद्भुत जज्बा के साथ जुलूसे मुहम्मदी का आयोजन किया गया.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments