Sunday, May 22, 2022
HomeUncategorizedऔषधीय पौधे की और जैविक खेती के महत्व पर विशेष चर्चा करते...

औषधीय पौधे की और जैविक खेती के महत्व पर विशेष चर्चा करते हुए अनुसंधान केंद्र में शुभारंभ करने की बात पर विशेष जोड़ दी

डाo राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय एवं विज्ञान केंद्र भगवानपुर हट सिवान प्रक्षेत्र को दिनांक 12.02. 2022 जागो भारत अभियान की तत्वधान में जिओ फाउंडेशन ट्रस्ट के फाउंडर, पर्यावरणविद योगीराज आर्यन गिरि, ,श्री मनोज कुमार सिंह , श्री नीतीश कुमार सिंह द्वारा भ्रमण किया गया। तकनीकी पार्क में लगे 8 प्रजाति की गेहूं (HD-2967, DBW- 154 DBW-107,DBW-17, DBW-89, HD- 3086,HD-2733,DBW-187 ), मसूर (HUL- 57) सरसो चना मटर तीसी सरसों वाकला इत्यादि को देखा। पोषण वाटिका एवं प्रक्षेत्र पर लगे शुन्य जुताई विधि द्वारा गेहूं की बुवाई, जलवायु के अनुकूल कृषि के अंतर्गत हैप्पी सीडर द्वारा गेहूं मसूर तीसी सरसों आलू, शुन्य जुताई विधि द्वारा लगा आलू, ट्रेंच विधि से लगा गन्ना आलू प्लांटर से 6 विधि से लगा आलू इत्यादि के बारे में वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ अनुराधा रंजन कुमारी के साथ भ्रमण के दौरान जानकारी प्राप्त किए। उन्होंने क्षेत्र पर बागवानी को देखा साथ ही साथ पॉलीहाउस एवं नेट हाउस में लगा आम अमरूद लीची पपीता एवं सहजन के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त किए। पर्यावरणविद आर्यन गिरि द्वारा अनुसंधान केंद्र के प्रांगण में आम के पौधारोपण करने के पश्चात
औषधीय पौधे की और जैविक खेती के महत्व पर विशेष चर्चा करते हुए अनुसंधान केंद्र में शुभारंभ करने की बात पर विशेष जोड़ दी गई। और किसानों को आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रशिक्षण, एवं जागरूकता, उन्नत बीज, समय पर मार्गदर्शन, एवं अत्याधुनिक, कृषि मशीनें ,कृषि वैज्ञानिकों द्वारा राज्य के किसानों को सहयोग प्राप्त हो कृषि वैज्ञानिक पदाधिकारियों से आग्रह की गई। भ्रमण के दौरान हर्ष कुमार पुष्पेंद्र पाल राजकिशोर अभिषेक कुमार दीपक कुमार आदि मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments