ज़िले के बुजुर्ग एवं दिव्यांगजनों के लिए चलाया जाएगा विशेष टीकाकरण अभियान, कॉल सेंटर से ली जायेगी सूचना

ज़िले के बुजुर्ग एवं दिव्यांगजनों के लिए चलाया जाएगा विशेष टीकाकरण अभियान, कॉल सेंटर से ली जायेगी सूचना

डेटाबेस तैयार करने के बाद ही लाभार्थियों को किया जाएगा टीकाकृत: निदेशक
नियंत्रण कक्ष में कॉल करने के बाद ही कराया जाएगा टीकाकरण:
स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किया गया 24×7 घंटे के लिए हेल्पलाइन नंबर:

पूर्णिया, 17 जुलाई।
जिले में कोविड-19 संक्रमण को जड़ से मिटाने के लिए टीकाकरण अभियान में तेजी लाई गई है। ताकि शत प्रतिशत लक्ष्य को पूरा किया जा सके। वहीं सरकार द्वारा दिये गए लक्ष्य को पूरा करने को लेकर विभिन्न तरीके से सकारात्मक व ठोस कदम उठाये जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है कि कोविड-19 टीकाकरण से कोई भी लाभार्थी किसी भी हाल में वंचित न रहे। जिसके लिए प्रचार-प्रसार के साथ ही बैनर पोस्टर के माध्यम से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। लेकिन अब ज़िले के दिव्यांग व बुजुर्गों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। जिसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र जारी कर राज्य के सभी जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। जारी पत्र में कहा गया है दिव्यांगजन, बुजुर्ग एवं किसी भी तरह की गंभीर बीमारी से ग्रसित एवं चलने फिरने में असमर्थ व्यक्तियों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड-19 टीकाकरण से आच्छादित किया जाना है। इसके लिए जिला स्तर पर कोविड-19 संक्रमण के दौरान कार्यरत कॉल सेंटर के माध्यम से दिव्यांग, बुजुर्ग, गंभीर रोग से ग्रसित एवं चलने फिरने से असमर्थ व्यक्तियों से संबंधित जानकारी लेने के बाद उन्हें कोविड-19 टीकाकरण कराने के लिए विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

डेटाबेस तैयार करने के बाद ही लाभार्थियों को किया जाएगा टीकाकृत: निदेशक
कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने जारी पत्र के माध्यम से निर्देश दिया है की जिला स्तर पर संचालित कॉल सेंटर में लाभार्थियों द्वारा कॉल करने के बाद संबंधित व्यक्ति का नाम व पता के साथ ही संपर्क करने के लिए मोबाइल नंबर सहित कई अन्य तरह की जानकारी को एकत्रित कर इसकी समीक्षा कराते हुए उक्त सूचनाओं को जिला प्रतिरक्षण कार्यालय को अवगत कराया जायेगा। ताकि सूचनाओं की समीक्षा के बाद उस क्षेत्र के अन्य लाभार्थी, जिन्हें कोविड-19 टीका से आच्छादित किया जाना है, उन्हें संबंधित क्षेत्र के टीका एक्सप्रेस के माध्यम से संबद्ध व्यक्ति के घर के समीप ही कोविड-19 टीकाकृत किया जाना है। इसके साथ ही वैक्सीन के अपव्यय पर विशेष ध्यान देते हुए प्रत्येक टीका एक्सप्रेस में प्रति टीम एक एनाफ्लेक्सिस किट की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जायेगी।

नियंत्रण कक्ष में कॉल करने के बाद ही कराया जाएगा टीकाकरण:
टीकाकरण के लिए शारीरिक रूप से लाचार या बुजुर्ग व्यक्तियों को स्वयं या किसी अन्य परिजनों के साथ स्वास्थ्य विभाग द्वारा बनाए गए नियंत्रण कक्ष को टेलीफोन करने के बाद टीकाकृत होने के संबंध में विस्तृत रूप से जानकारी देनी होगी। इसके बाद कॉल करने वाले व्यक्तियों के नजदीक वाले सत्र स्थल से चिकित्सीय टीम द्वारा पहले से निर्धारित समय पर पहुंच कर जरूरतमंदों के का टीकाकरण कार्य को पूरा किया जाएगा। महामारी से बचाव एवं सुरक्षित रहने के लिए अनिवार्य रूप से टीकाकरण कराना चाहिए। इसके साथ ही ग्रामीणों को भी जागरूक किया जा रहा है। ताकि लक्ष्य को शत प्रतिशत पूरा किया जा सके।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किया गया 24×7 घंटे के लिए हेल्पलाइन नंबर: सिविल सर्जन
सिविल सर्जन डॉ. एस. के. वर्मा ने बताया कोविड-19 टीकाकरण से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी लेने के लिए जिला स्तर पर संचालित हेल्प लाइन नंबर-18003456619 पर कॉल किया जा सकता है। या टीकाकरण से संबंधित अपनी सूचना या जानकारी दर्ज करा सकते हैं। इसके साथ ही राज्य हेल्प लाइन नंबर-104 पर कॉल कर टीकाकरण से संबंधित सूचना प्राप्त की जा सकती है। कॉल करने का कोई समय सीमा नहीं है बल्कि कभी भी कॉल किया जा सकता है जो कि पूरी तरह से निःशुल्क है। इसके साथ हीं राष्ट्रीय स्तर की हेल्पलाइन नंबर-1075 पर भी कॉल कर के जानकारी हासिल की जा सकती है।

Please follow and like us:
error5
Tweet 20
fb-share-icon20
Live खबर