नारायणपुर महादलित बस्ती में सड़क निर्माण नहीं होने से नाराज ग्रामीणों ने किया पंचायत चुनाव का बहिष्कार का निर्णय


नारायणपुर महादलित बस्ती में सड़क निर्माण नहीं होने से नाराज ग्रामीणों ने किया पंचायत चुनाव का बहिष्कार

नारायणपुर महादलित बस्ती के ग्रामीणों ने कहा “रोड नहीं तो वोट नहीं”

गरखा: आज दिनांक 31 अगस्त 2021 को गरखा प्रखंड क्षेत्र के जलाल बसंत पंचायत अंतर्गत नारायणपुर महादलित बस्ती के लोगों ने एक बड़ी बैठक कर निर्णय लिया है कि उग्र आंदोलन कर हो रहे पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है. ग्रामीणों ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों एवं स्थानीय प्रशासन के उदासीन रवैया के कारण आजादी के 7 दशक से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी जलाल पसंद पंचायत के नारायणपुर महादलित बस्ती तक रोड का निर्माण नहीं हो सका है जो अत्यंत दुखद और शर्मनाक है. मुख्य सड़क से महादलित बस्ती नारायणपुर तक संपर्क पथ नहीं होने से गरखा अस्पताल, थाना, ब्लॉक, बाजार, आने जाने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. खासकर एंबुलेंस तक का रास्ता गांव तक नहीं होने से इमरजेंसी रोगियों की जान तक चली जाती है, लेकिन ऐसी विकट परिस्थिति आने के बाद भी स्थानीय प्रशासन एवं जिला प्रशासन मुक दर्शक बने हुए हैं. स्थानीय प्रशासन एवं जिला प्रशासन से लेकर मुख्यमंत्री तक सड़क के लिए गुहार लगाते लगाते थक चुके हैं. अब हम सबों के पास वोट बहिष्कार करने, आंदोलन करने और कोर्ट जाने के सिवाय कोई रास्ता नहीं बच गया है. जरूरत पड़ी तो कोर्ट भी जाएंगे.
मौके पर बड़ी संख्या में महिलाएं बच्चे एवं पुरुष मौजूद थे. जिसमें मुख्य रुप से राजीव कुमार राम, बैजनाथ राम, बैजनाथ राम, रामचंद्रन राम, तारकेश्वर राम, गौतम राम, दीनानाथ राम, मुकेश राम, ओम प्रकाश राम, शांति देवी, कुसुम देवी, अजीत कु. राम, सुरेश राम, रामाशंकर राम, उमा राम, बिजली राम, प्रभु राम, चिंता देवी, आशा देवी, अमरावती देवी, कलावती देवी, सामंती देवी, माला देवी, संजू देवी, पुष्पा देवी, इंदु देवी, बादल, लखन, सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे.

राजीव कुमार राम

Please follow and like us:
error5
Tweet 20
fb-share-icon20
Live खबर