ड मास्टर बने रक्त वीर, गर्भवती महिला की बचाई जान

हेड मास्टर बने रक्त वीर, गर्भवती महिला की बचाई जान

एक सरकारी स्कूल के हेड मास्टर तब रक्त वीर बन गए जब उनसे एक गर्भवती महिला की जान बचाने के लिए परिजनों ने उनसे ओपॉजिटिव ब्लड की मांग कर दी। हेड मास्टर बिना कोई संकोच किए ब्लड देने के लिए तैयार हो गए। उन्होंने गर्भवती महिला को ब्लड दिया और महिला व बच्चे की जान बच गई। इस कार्य को संपन्न कराने में लायंस क्लब छपरा यंगस्टर गजानन की पहल काफी सराहनीय रही जो गर्भवती महिला के परिजनों और हेड मास्टर के बीच में संवाद का काम किया। यह हेडमास्टर कोई और नहीं बल्कि राजकीय मध्य विद्यालय सिमरिया पूर्वी रिविलगंज के सुनील पांडे हैं‌ सुनील पांडे ने इसके पहले भी कई लोगों को ब्लड देकर जान बचाई है। यही कारण है कि उनको जानने वाले रक्त वीर के नाम से जानते हैं । वह सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के लिए प्रेरणा के स्रोत बन चुके हैं । इस अवसर पर ब्लड बैंक इंचार्ज संजय कुमार, क्लब के अध्यक्ष लायन नारायण कुमार पांडे, पूर्व अध्यक्ष लायन अमरनाथ, पीआरओ चीकू प्रियदर्शी समेत अन्य थे। गर्भवती महिला प्रिया कुमारी सोनी ने हेड मास्टर को जान बचाने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद दिया और कहा कि जब तक इस धरती पर ऐसे लोग रहेंगे मानवता जिंदा रहेगी।

Please follow and like us:
error5
Tweet 20
fb-share-icon20
Live खबर